जापान में धूम्रपान की स्थिति | धूम्रपान-मुक्त दुनिया फाउंडेशन

जापान में धूम्रपान की स्थिति

धूम्रपान की दर:

विश्व स्वास्थ्य संगठन के तम्बाकू नियंत्रण पर फ्रेमवर्क सम्मलेन (डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी) के प्रतिभागी:

हां

डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी के समय से:

नियामक परिवेश:

जापान के तम्बाकू व्यापार अधिनियम (टीबीए) के अंतर्गत, तम्बाकू के विज्ञापन, प्रचार-प्रसार, और प्रायोजन पर प्रतिबंध अधिकांशतः “उद्योग द्वारा स्व-नियमन” पर छोड़ दिए गए हैं। कई सार्वजनिक स्थानों में धूम्रपान प्रतिबंधित है, जिसमें टोक्यो के कई भागों में सड़कें और पार्क शामिल हैं। इमारतों के अंदर धूम्रपान की अनुमति है और कई रेस्त्रांओं में धूम्रपान कक्ष या धूम्रपान अनुभाग होते हैं, पर 2020 ओलिम्पिक्स से पहले टोक्यो में इमारतों के अंदर धूम्रपान प्रतिबंधित करने को लेकर मांगें उठ रही हैं। वर्तमान में ई-सिगरेट और ई-लिक्विड टीबीए के अंतर्गत तम्बाकू उत्पाद के रूप में नियंत्रित नहीं हैं; हालांकि, तम्बाकू पत्तियों का वाष्पीकरण करने वाले हीट-नॉट-बर्न उत्पाद तम्बाकू के रूप में नियंत्रित किए जाते हैं। निकोटीन युक्त ई-सिगरेट को “फार्मास्युटिकल उत्पाद” माना जाता है, अतः जापान में निकोटीन-युक्त ई-सिगरेट को फार्मास्युटिकल लाइसेंस के बिना बाज़ार में नहीं उतारा जा सकता है।

मीडिया संवाद:

2020 ओलिम्पिक्स से पहले टोक्यो में इमारतों के अंदर धूम्रपान पर संभावित प्रतिबंध, धूम्रपान के बारे में मज़बूत संवाद खड़ा कर रहा है। गर्म किए हुए तम्बाकू समेत घटे-जोख़िम वाले उत्पादों की वृद्धि, और धूम्रपान की दर में गिरावट को भी मीडिया कवरेज मिल रहा है।

धूम्रपान के विकल्पों पर राय:

जापान में गर्म किया हुआ तम्बाकू उत्पादों की लोकप्रियता बढ़ी है, जिसके कारणों में धूम्रपान से जुड़े स्वास्थ्य जोख़िमों के बारे में बढ़ती जागरुकता, पारंपरिक तम्बाकू उत्पादों की ऊंची कीमतें, और स्वच्छता की एवं धुएं की गंध का स्रोत बनने से बचने की इच्छा शामिल हैं।

आंकड़ों के अनुसार:

“यदि इसे अवैध बना दिया जाए, तो लोग सोचेंगे कि अब हम छोड़ देंगे। पर अग़र हम छोड़ सकते, तो कब के छोड़ चुके होते।”

– Yuki Okuda, सिगरेट धूम्रपानकर्ता
वर्डप्रेस ऐप्लायंस - संचालक टर्नकी लिनक्स

Powered by