मलावी में धूम्रपान की स्थिति | धूम्रपान-मुक्त दुनिया फाउंडेशन

मलावी में धूम्रपान की स्थिति

धूम्रपान की दर:

एक आकलन के अनुसार, मलावी में 18 प्रतिशत वयस्क पुरुष तम्बाकू धूम्रपान करते हैं, जबकि महिलाओं में यह आंकड़ा मात्र 1.2 प्रतिशत है। हालांकि, चूंकि ऐसी कोई राष्ट्रीय एजेंसी नहीं है जो तम्बाकू नियंत्रण पर केंद्रित हो, अतः आंकड़ों का सही-सही निर्धारण कठिन है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के तम्बाकू नियंत्रण पर फ्रेमवर्क सम्मलेन (डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी) के प्रतिभागी:

हां

डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी के समय से:

  • धूम्रपान घटाव: नवीनतम उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार पुरुषों और महिलाओं में तम्बाकू धूम्रपान की दर 2003 में क्रमशः 25.5 प्रतिशत और 6.1 प्रतिशत से घटकर 2010 में क्रमशः 18 प्रतिशत और 1.2 प्रतिशत पर आ गई है।
  • प्रतिबंध: सार्वजनिक स्थानों में धूम्रपान, विज्ञापन, या प्रचार-प्रसार पर कोई प्रतिबंध नहीं है। तम्बाकू खरीदने की कोई न्यूनतम आयु नहीं है।
  • स्वास्थ्य चेतावनियां: ऐसा कोई कानून नहीं है जो तम्बाकू पैकेजिंग पर चेतावनी या संबद्ध जोख़िम दर्शाना आवश्यक करता हो।
  • तम्बाकू पर कर की दरें: ऐसा कोई कानून नहीं है जो एक न्यूनतम तम्बाकू उत्पाद शुल्क कर की दर आवश्यक करता हो।

नियामक परिवेश:

मलावी एफसीटीसी का भाग नहीं है, अतः तम्बाकू उत्पादों का नियमन बहुत कम है। मलावी का तम्बाकू अधिनियम तम्बाकू की खेती और निर्यात को नियंत्रित करता है, पर इसमें विज्ञापन एवं सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान पर प्रतिबंध, या स्वास्थ्य चेतावनी लेबल आवश्यकता नहीं हैं। सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान की अनुमति है, और तम्बाकू के विज्ञापनों, जिसमें खेल टीमों का तम्बाकू प्रायोजन शामिल है, की अनुमति है। चूंकि बहुत से धूम्रपानकर्ता अपना खुद का तम्बाकू उगाकर उससे सिगरेट बनाते हैं, अतः तम्बाकू पर कर, धूम्रपान को हतोत्साहित करने का प्रभावशाली तरीका नहीं बन पाया है।

मीडिया संवाद:

तम्बाकू की खेती मलावी की विदेशी मुद्रा विनिमय आय का 81 प्रतिशत है। अतः धूम्रपान ख़त्म करने के प्रयासों के प्रति सावधानी बरती जाती है और प्रायः उन्हें देश के लिए नकारात्मक आर्थिक परिणामों की चिंता से जोड़ दिया जाता है। साथ ही, धूम्रापन के बारे में जनता में शिक्षण का भी अभाव है, और कई धूम्रपानकर्ता, विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में, धूम्रपान के नकारात्मक स्वास्थ्य परिणाम उत्पन्न करने के सामर्थ्य को पूरी तरह नहीं समझते हैं।

धूम्रपान के विकल्पों पर राय:

मलावी के लोग दहनशील सिगरेट के विकल्पों के बेहद कम संपर्क में आए हैं या उनकी बेहद कम जानकारी रखते हैं।

आंकड़ों के अनुसार:

“मैं जीर्ण रोगों के बहुत से रोगियों को धूम्रपान के दुष्परिणामों के बारे में बताता हूं, और वे कहते हैं, ‘नहीं, ऐसा हो ही नहीं सकता।’”

– Lawrence Kasenda, चिकित्सा पेशेवर
वर्डप्रेस ऐप्लायंस - संचालक टर्नकी लिनक्स

Powered by