धूम्रपान को समाप्त करने में मिश्रित प्रगति का एक वर्ष - धूम्रपान-मुक्त दुनिया फाउंडेशन

धूम्रपान को समाप्त करने में मिश्रित प्रगति का एक वर्ष

जैसे-जैसे 2018 समाप्त हो रहा है, आइए हम इस बात का जायजा लें कि क्या हम धूम्रपान को समाप्त करने में वास्तविक प्रगति कर रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डेटा से पता चलता है कि दुनिया में आज भी 1 अरब से अधिक धूम्रपान करने वाले हैं, और 7 मिलियन से अधिक लोग धूम्रपान से संबंधित कैंसर, हृदय रोग और फेफड़ों की बीमारी से समय से पहले मर जाते हैं। दहनशील सिगरेट और विषैले धूम्रमुक्त तम्बाकू उत्पादों के कुछ प्रकार विश्वभर में अकाल मौतों के सबसे बड़े निवार्य कारण बने हुए हैं। इसमें कई लोगों की अस्वीकार्य रूप से अधिक दिलचस्पी है।

कम नुकसान वाले उत्पादों या छोड़ने के बेहतर तरीकों के लिए धूम्रपान करने वालों की मांग से प्रेरित बाजार के नेतृत्व वाले समाधानों ने इस साल सुर्खियां बटोरीं। मेरी पसंदीदा सुर्खियाँ निम्नलिखित हैं:

  • अल्ट्रिया ग्रुप इंक द्वारा ई-वैपर उत्पादों के अमेरिका में अग्रणी निर्माता JUUL लैब्स, इंक में 12.8 अरब अमेरिकी डॉलर के निवेश की घोषणा। यह निवेश JUUL में 35% आर्थिक हित के बराबर है। इसका मतलब है कि अल्ट्रिया के पोर्टफोलियो में अब एक सिद्ध और सफल वैकल्पिक निकोटीन उत्पाद है। जब IQOS को एफडीए से बाज़ार में लाने से पहले का प्राधिकरण प्राप्त होगा, तब अल्ट्रिया के उत्पाद धूम्रपान को छोड़ने और कम जोखिम वाले उत्पादों में जाने के कई तरीके पेश करेंगे। हाल ही में प्रमुख अनुसंधानकर्ता डेविड लेवी, पीएचडी, के नेतृत्व में किए गए एक अध्ययन से पता चलता है कि "अगर निकोटीन को सिगरेट के धुएं के साथ श्वास में जाने वाले विषैले पदार्थों की अधिक घातक मात्रा के बजाय वैपिंग से प्राप्त किया जाता है, तो जीवन में कई वर्षों का इज़ाफ़ा होता है।"
  • चायना नेशनल टोबैको कॉर्पोरेशन (सीएनटीसी) ने दक्षिण कोरिया में अपना नया गर्म तम्बाकू उत्पाद लाँच किया, जो गर्म तम्बाकू बाज़ार के लिए एक बहुत जरूरी वैश्विक प्रतिस्पर्धी युद्ध आरंभ कर सकता है। सीएनटीसी विश्व भर के सभी सिगरेट स्टिक समतुल्यों के लगभग 40% का उत्पादन करता है। चीन में 315 मिलियन धूम्रपान करने वालों और धूम्रपान से लगभग 1.8 मिलियन अकाल मौतों के साथ, कम-जोखिम वाले निकोटीन उत्पादों को अपनाने से कुछ ही दशकों में लाखों लोगों की जान बचाई जा सकती है।
  • जापान और कोरिया का हार्ड डेटा दर्शाता है कि लाखों धूम्रपान करने वालों ने गर्म तम्बाकू उत्पादों को अपना लिया है या धूम्रपान छोड़ दिया है।
  • धूम्रपान की दर नॉर्वे में स्नस की लोकप्रियता के बढ़ने के साथ अपने सबसे कम दर्ज किए गए स्तर तक गिर गई है। यह स्वीडन में दशकों से दर्शाए जा रहे ऐसे ही परिणामों को हूबहू प्रदर्शित करता है। धुआँ रहित तम्बाकू में भारत में कई जानें बचाने की बड़ी क्षमता है। गुटखा और पान में तम्बाकू के उपयोग से मुंह के कैंसर का जोखिम क्रमशः लगभग नौ और सात गुना बढ़ जाता है, जबकि स्नस के उपयोग से जोखिम में 1% की वृद्धि होती है।

कुछ सरकारों ने उल्लेखनीय प्रगति की है; उदाहरण के लिए, ब्रिटेन ने कम नुक़सान वाले उत्पादों के विनियमन में काफी सुधार किया है। हालांकि, कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाएँ तम्बाकू से होने वाले नुकसान में कमी, जो समग्र तम्बाकू नियंत्रण का एक प्रमुख तत्व है, से कतराती हैं। नीचे नुकसान में कमी के खिलाफ कार्रवाई के कुछ उदाहरण दिए गए हैं।

  • तम्बाकू नियंत्रण पर विश्व सम्मेलन (मार्च 2018) और WHO तम्बाकू नियंत्रण पर फ्रेमवर्क सम्मेलन (WHO-एफसीटीसी) पार्टियों के सम्मेलन का आठवां सत्र (COP8)(अक्तूबर 2018) ने एफसीटीसी द्वारा तम्बाकू नियंत्रण की परिभाषा में "नुकसान कम करने की रणनीतियों" को शामिल करने के बावजूद, कम जोखिम वाले उत्पादों के लाभों का खंडन किया। नुकसान कम करने वाले हितधारकों को COP8 में भाग लेने से प्रतिबंधित कर दिया गया, और मीडिया के संदेशों को कसकर नियंत्रित किया गया।
  • 2018 में, तम्बाकू मुक्त बच्चों के लिए अभियान, जो ब्लूमबर्ग फिलान्थ्रोपीज द्वारा वित्त पोषित है, ने वयस्क धूम्रपान करने वालों के जीवन की कीमत पर बच्चों के लिए अपना समर्थन शुरू किया। परिणाम? वही यथास्थिति बनाए रखना जो दहनशील पदार्थों के उपयोग और स्वास्थ्य के लिए उनके गंभीर प्रभावों का समर्थन करती है। बच्चों को धूम्रपान से बचाने या वैकल्पिक उत्पादों के उपयोग को उन वयस्कों के लिए नुकसान कम करने में प्रगति में बाधा नहीं बनना चाहिए जो अपने जोखिम को कम करना या धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं।
  • JUUL का उपयोग करने वाले युवाओं के बारे में आशंकाओं का जवाब देने के प्रयास करते हुए, एफडीए 2018 में दहनशील उत्पादों और निकोटीन से होने वाले जोखिमों के सापेक्ष कम नुकसान वाले विकल्पों के बारे में भ्रमित करने वाले संदेशों के साथ सुर्खियों बना रहा। एफडीए स्वीकार करता है कि "निकोटीन – जो अत्यधिक व्यसनकारी है – को ऐसे उत्पादों के माध्यम से डिलीवर किया जाता है जो जोखिम की निरंतरता का प्रतिनिधित्व करते हैं और दहनशील सिगरेट में धुएं के कणों के माध्यम से डिलीवर किए जाने पर सबसे अधिक हानिकारक होते हैं।" हालांकि, नवीनतम वक्तव्य ने कई धूम्रपान करने वालों और वैकल्पिक उत्पाद उपयोगकर्ताओं के मन में इस तरह के उत्पादों बनाम दहनशील उत्पादों के सापेक्ष जोखिमों के बारे में अधिक भ्रम उत्पन्न किया है।

वर्तमान औषधीय निवारण उपचारों को 1 वर्ष तक लेने के बाद धूम्रपान छोड़ने की अधिकतम दर 25% से कम है। वास्तव में, WHO ने संकेत दिया कि औषधीय निकोटीन प्रतिस्थापन थेरेपी, अकेले या निवारण की अन्य पर्चे पर मिलने वाली दवाओं के साथ संयोजन में, छोड़ने की दरों में केवल 7% की वृद्धि करती है। इसके अलावा, नई थेरेपियों पर अनुसंधान लगभग नगण्य है, और 5-10 वर्षों के भीतर किसी भी नए उत्पाद की उम्मीद नहीं है। इसमें निश्चित रूप से सुधार की गुंजाइश है।

उपभोक्ता परिवर्तन और लंबे और स्वस्थ जीवन की मांग करते हैं। प्रौद्योगिकियों का विकास स्वास्थ्य जोखिमों को काफी कम कर सकता है। सरकारों को धूम्रपान करने वालों के हित में और अधिक मजबूती से काम करने की आवश्यकता है; नुकसान को कम करने का विरोध करने वालों के सामने झुकने की नहीं। लाखों जिंदगियां दांव पर हैं।

नए वर्ष में प्रवेश करते समय, चलिए धूम्रपान को तेज़ी से समाप्त करने के अपने प्रयासों को और आगे बढ़ाते हैं।

वर्डप्रेस ऐप्लायंस - संचालक टर्नकी लिनक्स

Powered by